कैसे हो दोस्तों हम उम्मीद करते हैं कि आप अच्छे होंगे और खुश होंगे। आज के इस आर्टिकल में आप पढोगे Love Romantic Shayari हिंदी में, यदि आप किसी से प्यार करते हैं और अभी तक धोखा नहीं खाये है तो यह शायरी आपके लिए है आप हमारी इस शायरी को पढ़ें और अपनी गर्लफ्रैंड के साथ साँझा करें यदि आपको धोखा मिल चुका है तो आप यहाँ से जा सकते हैं और नीचे दी गयी शायरी को पढ़ सकते हो। जो सैड शायरी है।


शायरी लव रोमांटिक हिंदी | Love Romantic Shayari In Hindi


 
शायरी लव रोमांटिक हिंदी | Love Romantic Shayari In Hindi



🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹


हम मिलकर एक घर बनाते हैं

उसमें छोटा सा एक संसार बसाते है

और वहाँ प्यार का एक बाग लगाते हैं

उस घर में इश्क़ के फूल खिलाते हैं


Hum milkar ek ghar bnate hai

Usme chhota sa ek sansar basate hai

Aur waha pyar ka ek baag lagate hai

Us ghar me ishq ke fool khilate hai


🌹🌹🌹


आओ बाहों में मेरी मेरे इश्क़ की प्यास बुझाने

मेरा दर्द खत्म कर दो होंटों से होंटों को चूम कर


Aao baahon mein meri mere ishq ki pyaas bujhane

Mera dard khatam kar do hontho ko chum kar


🌹🌹🌹


लोग बदल जाते हैं मैं यह तो जानता था

पर मैं कभी तुम्हें उन लोगों में नहीं मानता था

दुनिया वाले बताते रहते थे तेरी बेवफाई के किस्से

पर मैं उन्हें कभो सच्च नहीं मानता था


Logg badal jaate hai main yeh toh janta tha

Par main kabhi tumhe un logo mein nahi manta tha

Duniya wale batate rehte the teri bewafai ke kisse

Par main unhe kabhi sachh nahi manta tha


🌹🌹🌹


मेरे आशिक़ है दिल हज़ार इस दुनिया मैं

और मुझे सिर्फ एक पसंद आया है इस दुनिया मैं


Mere Aashiq hAi dil hazar is duniya mein

Aur mujhe sirf ek pasand aaya hai is duniya mein


🌹🌹🌹


वक़्त को वक़्त आने पर टाल देता हूँ

मैं हर बात को आगे के लिए टाल देता हूँ

जबसे छोड़ा है उसने मुझे बेवफा कहकर

मैं हर किसी को बेवफा बता देता हूँ


Waqt ko waqt aane par taal deta hu

Main har baat ko agay ke liye taal deta hu

Jabse chhoda hai usne mujhe bewafa keh kar

Main har kisi ko bewafa bataa deta hu


🌹🌹🌹


तेरे हाथ को अपने हाथ मैं लेकर

उसे धीरे से होंटों से चुम लेता था

लोग झूमते थे शराब पीने के बाद

मैं तेरी आँखों से पीकर झूम लेता था


Tere haath ko apne haath main lekar

Usey dheere se hontho se chum leta hu

Logg jhumte the sharaab peene ke baad

Main teri aankhon se peekar jhoom leta hu


🌹🌹🌹


कितनी दूरियां बढ़ गयी है

हम दोनों के दरमियाँ जानी

पता नही ज़िंदा मिल पाएंगे 

या खुदा के पास मुलाक़ात होगी


Kitni duriyan badh gayi hai

Hum dono ke darmiyan jaani

Pata nahi zinda mill payenge

Ya khuda ke paas mulaqat hogi


🌹🌹🌹


अब होती नहीं उनसे कभी बात हमारी 

पता नहीं कब उनसे अब बात होगी

खुदा मिलाएगा उनसे कभी या नहीं

पता नही कब फिरसे मुलाकात होगी


Ab hoti nahi unse kabhi baat humari

Pata nahi kab unse ab baat hogi

Khuda milayega unse kabhi ya nahi

Pata nahi kab firse mulakaat hogi



Love Romantic Shayari 2 Lines


🌹🌹🌹


मैं खुश हूँ उसे झूठ बोल दिया करता था

जब वो बोलती थी झूठ हमसे तो मैं

सच्च मान लिया करता था  


Main khush hu usey jhooth diya karta tha

Jab woh bolti thi jhooth humse toh main

Sachh maan liya karta tha


🌹🌹🌹


जज़्बातों को मेरे वो समझ नहीं पाता है

मुझे वो हर वक़्त बात बात पर सताता है

वो हमसे हर रोज़ रूठ जाता है

मैं करती हूं उससे हद से ज्यादा प्यार

ना जाने वो हम जैसे किस को चाहता है


Jazbaaton ko mere woh samajh nahi paata

Mujhe woh har waqt baat baat par satata hai

Woh humse har roz rooth jata hai

Main karti hu hu usse hadd se jyada pyar

Na jaane woh hum jaise kis ko chahta hai 


🌹🌹🌹


कहता था तुम मेरे ख़्वाबों की रानी हो

तुम ही मेरी राधा दीवानी हो

वो सिर्फ कहता था बस यह बातें

कभी उसने एह्साह नहीं कराया हमें


Kehta tha tum mere khawabon ki raani ho tum hi meri radha deewani ho

Woh sirf kehta tha bas yeh baatein

Kabhi usne ehsaas nahi karaya mujhe


🌹🌹🌹


धोखा वो देता था और झूठा बताया हमें

बेवफाई उसने की और बेवफा बनाया हमें


Dhokha woh deta aur jhooth bataya humein

Bewafa usne ki aur bewafa banaya 


🌹🌹🌹


जब नींद नही आती उसकी यादें आने पर

तो हम सोने के लिए खुद को दर्द दिया करते हैं

जब फिर भी नहीं सो पाते कभी तो

हम बेहिसाब शराब पिया करते हैं


Jab neend nahi aati uski yaadein aane par

Toh hum sone ke liye khud ko dard diya karte hai

Jab fir bhi nahi so paate kabhi toh

Hum behisaab sharab piya karte hai


🌹🌹🌹


उसने मुझे दर्द दिया था

उसने मेरे साथ धोखा किया था

पहले लगा दी उसने खुद की आदत मुझे

और फिर अकेले जीने के बारे में कह दिया था


Usne mujhe dard diya tha

Usne mere saath dhokha kiya tha

Pehle laga di usne khud ki aadat mujhe 

Aur fir akele jeene ke bare mein keh diya


🌹🌹🌹


मेरे बिना ना जी सकेगा यह कहता रहता था

हमें झूठा बोल बोल कर धोखा खुद देता रहता था


Mere bina naa jee sakega yeh kehta rehta the

Humein jhootha bo bol kar dhoka khud khud deta rehta hai….


🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹


Read Moreबेवफा शायरी इन हिंदी