दोस्तों क्या आपने कभी इश्क़ प्यार मोहब्बत में धोखा खाया है अगर आपका जवाब है हाँ तो आप इश्क़ में धोखा खाकर मिलने वाले दर्द से अच्छी तरह से वाकिफ होंगे और बहुत लंबा वक्त आपने इस दर्द के साथ बिताया होगा और यह दर्द आज भी आपके दिल में दबा होगा लेकिन यदि आपने इस दर्द को अभी तक महसूस नही किया तो कोई बात नहीं आज हम आपको अपनी शायरी के ज़रिए यह दर्द महसूस करवाएंगे।

Dard shayari in hindi


इस दर्द शायरी को पढकर आपकी आँखें नम जरूर हो जाएंगी क्योंकि यह शायरी एक दर्द से तड़प रहे शायर द्वारा लिखी गयी है।



अपना दर्द शायरी इन हिंदी | 2 Lines Dard Shayari


वो दर्द से तड़प कर रोता है तो रोने दो

उसने मुझसे इश्क़ किया है इसलिए

उसके साथ जो भी बुरा होता है तो होने दो

हम बेवफा है हमें चैन से सोने दो


Woh dard se tadap kar rota hai toh rone do

Usne mujhse ishq kiya hai isliye

Uske saath ho bhi bura hota hai hone do

Hum bewafa hai hume chain se sone do 


🙃🙃🙃


मैं खुद को खुद से खोने लगा था

मैं थोड़ा पागल होने लगा था

मैं बेवक्त उसकी याद मै रोने लगा था

मैं बैचैनी मैं आज कल सोने लगा था


Main khud ko khud se khone laga tha

Main thoda pagal hone laga tha

Main bewaqt uski yaad main rone laga tha

Main bechaini main aajkal sone laga tha


🙃🙃🙃


खुदा ने तो चाहा था हम दोनों को मिलाना

लेकिन उसने धोखा देकर खुदा के लिखे को बदल दिया


Khuda ne toh chaha tha hum dono ki milana

Lekin usne dhokha dekar khuda ke likhe ko badal diya


🙃🙃🙃


तुम हमेशा खुश रहो मेरी जान

मैं रोता हूँ तो मुझे रोने दो

तेरी खुशी से बढकर तो कुछ नहीं

मेरे साथ जो होता है होने दो


Tum humesha khush raho meri jaan

Main rota hu toh mujhe rone do

Teri khushi se badhkar toh kuch nahi

Mere saath jo hota hai hone do


🙃🙃🙃


वो मेरी हो जाती अगर तो उसको रानी बना रखता

अगर मुझे धोखा ना देती तो दिल मे बिठा कर रखता

मैं उसे अपने दिल में बसा कर रखता

बनाता बड़ा सा महल और उसे वहां सहज पर बिठा कर रखता


Woh meri ho jaati agar toh usko rani bana rakhta

Agar mujhe dhokha naa deti toh dil mein betha kar rakhta

Main usey apne dil mein basa kar rakhta

Bnata bada sa mahal aur usey waha sahaj par betha kar rakhta


🙃🙃🙃


दिल खोल कर तुमसे बातें दिल की कहनी है

तेरे दिल में मेरे दिल की धड़कन बन कर रहनी है

तुझ पर जो आये कभी मुसीबतें मेरी जान

तो तेरी मुसीबतें भी हमें हँस हँस कर सहनी है


Dil khol kar tumse baatein dil ki kehni hai

Tere dil mein mere dil ki dhadhkan ban kar rehni hai

Tujh par jo aaye kabhi musibaton meri jaan

Toh teri musibtein bhi hume hass hass kar sehni hai


🙃🙃🙃


तुम्हें तोहफे में एक महल बना देते 

तेरे सपनों से बढ़कर तुझे ला देते

एक बार बताया तो होता तुम्हें दौलत की चाहत है

हम अपनी ज़िंदगी की पूरी दौलत लूटा देते


Tumhe tohfe mein ek mahal bana dete

Tere sapno se badhkar tujhe laa dete

Ek baar bataya toh hota tumhe dolat ki chahat hai

Hum apni zinda ki poori daulat loota dete


🙃🙃🙃



सीने में दर्द शायरी | Ishq dard


कैसी कैसी वो सजा देता है

मेरे इश्क़ का मज़ाक बना वो मज़ा लेता है

जो कहता था तुम मेरी ज़िंदगी हो जानी

वो मेरी ज़िंदगी को दगा देता है


Kaisi kaisi woh saza deta hai

Mere ishq ka mazak bana woh maza leta hai

Jo kehta tha tum meri zindagi ho jaani

Woh meri zindagi ko daga deta hai


🙃🙃🙃


मेरे मरने तक ठहर जाना बस मेरी जान

मेरे दिल मैं अब एक यही है अरमान

तू ना हो सकी और ना हो सकेगी मेरी

मेरे जनाज़े के साथ तो चलदे एक बार


Mere marne tak thahar jana bas meri jaan

Mere dil main ab ek yahi hai armaan

Tu naa ho saki aur naa ho sakegi meri

Mere janaze je saath toh chale ek baar


🙃🙃🙃


कभी धड़कन थम जाती है

जब वो हमें बेवफा कह कर बुलाती है

बात बात पर झूठ बोलती है और धोखा देती है

फिर ना जाने क्यों इल्ज़ाम हम पर लगाती है


Kabhi dhadhkan tham jaati hai

Jab woh hume bewafa keh kar bulati hai

Baat baat par jhooth bolti hai aur dhokha deti hai

Fir naa jane kyun ilzaam hum par lagati hai


🙃🙃🙃


उसके जाने से मेरी साँसें भी जाने लगी है

धीरे धीरे अब धड़कन थम जाने लगी है

जरूरत नहीं मुझे वैद के पास ले जाने की

अब बस मेरी जान जाने ही वाली है


Uske jaane se meri saansein bhi jane lagi hai

Dheere dheere ab dhadkan tham jane lagi hai

Zarurat nahi mujhe vaid ke paas le jane ki

Ab bas meri jaan jane wali hai


🙃🙃🙃


कभी मेरे दिल के अंदर समाए थे तुम

मेरी धड़कन बन कर आये थे तुम

अब क्या हुआ तुम क्यों जा रहे हो

कभी मेरे छोड़ने पर घबराए थे तुम


Kabhi mere dil ke andar samaye the tum

Meri dhadkan ban kar aaye the tum

Ab kya hua tum kyun jaa rahe ho

Kabhi mere chhodne par ghabraye the tum


🙃🙃🙃


तुम मेरी जान हो यह कितना प्यार से कहती थी

तुम हर वक़्त जानू जानू करती रहती थी

कभी तूने महसूस ही नहीं होने दिया इस दिल को

के तू पीठ पीछे लोगों से भी यही कहती थी


Tum meri jaan ho yeh kitna pyar se kehti thi

Tum har waqt jaanu jaanu karti rehti thi

Kabhi tune mehsoos hu nahi hone diya is dil ko

Ke tu peeth peeche logo se bhi yahi kehti thi 


🙃🙃🙃


जानी जानी वो कहती थी जब जुबान से

मैं उसके ही लफ़्ज़ों में खो जाया करता था


Jaani jaani woh kehti thi jab jubaan se

Main uske hi lafzo mein kho jaya karta tha


🙃🙃🙃


वो मुझे आज़माती थी मैं उसे कभी ना आज़माता था

वो दिल से चाहती थी मैं उसके जिस्म को चाहता था


Woh mujhe azmati thi main usey kabhi naa azmata tha

Woh dil se chahti thi main uske jism ko chahta tha


🙃🙃🙃


Read More

Khamoshi Shayari In Hindi